Friday, April 13, 2018

Jal Hi Jeevan Hai Poem in Hindi

Jal Hi Jeevan Hai Poem in Hindi



जल ही जीवन है
मनुष्य ने यह क्या किया
जो भगवान ने दिया उसे मार दिया
जल है तो कल है ....

पल पल में हो रहा है ये काम
यदि इसे बचाना है
तो सबको हाथ मिलाना होगा

आने वाली पीढ़ी को यह सिखाना होगा
यदि जीवित रहना है तो जल बचाना होगा
मनुष्य ने यह क्या किया ?
पेड़ काटा उसका कागज बनाया

और उसी पर लिख दिया
हम सबको पेड़ बचाना होगा - अनुष्का अग्रवाल -धन्यवाद 
_____________________________


SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: