Sunday, August 23, 2020

Essay on Goat in Hindi बकरी पर निबंध

Essay on Goat in Hindi : Bakri par Nibandh

बकरी एक पालतू जानवर है इसे संसारभर में सभी जगह देखा जा सकता है। इसकी चार टांगे और दो लम्बे कान होते हैं दो सींघ और एक छोटी पूंछ होती है। प्राचीन समय से ही बकरी को मनुष्य पालता आ रहा है।
भारत में बकरी का धंधा बड़े पैमाने पर किया जाता है बकरी से हमें दूध प्राप्त होता है इसका दूध बड़ा ही गुणकारी होता है। नवजात बच्चों के लिए बकरी का दूध बड़ा ही उपयोगी होता है।

Essay on Goat in Hindi बकरी पर निबंध

Essay on Goat in Hindi


बकरी के जीते जी तो बड़े फ़ायदे है ही बल्कि इसकी मृत्यु के पश्चात भी यह बड़ी उपयोगी मानी जाती है इसके सींघों से कई प्रकार की वस्तुएं तैयार की जाती हैं इस की खाल से जूते और दस्ताने आदि तैयार किये जाते हैं। इसके इलावा बकरी से मांस , खाद एवं बाल प्राप्त किये जाते हैं। बकरी की औसतन उम्र 12 से 14 वर्ष तक होती है।


बकरी (Goat) एक शाकाहारी जानवर है जो घास -फूस और हरी पत्तियां खाती है। संसारभर में बकरी की 100 से भी अधिक प्रजातियां पायी जाती हैं इनमें से 20 प्रजातियां भारत में ही पायी जाती हैं। बकरी एक झुण्ड में रहने वाला जानवर है। बकरी के बच्चे को मेमना कहा जाता है। बकरी से पहाड़ों पर समान ढ़ोने का काम लिया जाता है।

बकरियों की इतनी सारी खूबियों को देखते हुए इसका पालन -पोषण बड़े पैमाने पर किया जाता है। बकरी पालन का धंधा उन क्षेत्रों में ज्यादा किया जाता है यहां पर पशुपालन के लिए घास उचित मात्रा में ना हो तथा यहां की जलवायु अधिक गर्म हो। कुछ बकरियों से जैसे अंगेरा से उन प्राप्त की जाती है। सबसे अधिक बकरियां भारत , चीन और पाकिस्तान में पालीं जाती हैं यह देश बकरी के मांस के निर्यातक भी हैं।

SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: