Sunday, August 23, 2020

Poem on Trees in Hindi - पेड़ों पर कविताएं

Trees Poem Hindi Language (kavita)

Poem on Trees in Hindi


में हूं पेड़ मुझे मत काटो
टुकड़ों टुकड़ों में मत बांटों
दर्द मुझे भी होता है
मन मेरा भी रोता है
में तो सखा तुम्हारा हूं
मित्र  सबसे न्यारा हूं
फल में खुद नहीं खाता हूं
सभी तुम्हे ही दे जाता हूं
जहरीली गैसें पी जाता

शुद्ध हवा तुम तक पहुंचाता
झूम झूम के जब लहराऊँ
मानसून के बादल लाऊँ
धरती का श्रुंगार करूं
सूरज का सब ताप हरू
जीवन का में हूं आधार
फिर भी तुम मुझ पर करते प्रहार
सुनों बात तुम देकर कान
वृक्षों का करना सम्मान
रखवाली हरियाली की
चाबी खुशहाली की
लेखक - इंजी - आशा शर्मा - Thanks
____________________________________________
HINDI POEM ON TREE FOR CLASS 3, 5
आओ बच्चों
मिलजुल कर
हम पेड़ लगाएं।
पेड़ लगाकर
अपनी धरती
को सुंदर बनाएं।
पेड़ हमें छाया दें
मीठे फ़ल दें
जीवन वायु भी
अपने अंग भी।
हर अंग सुख पहुंचाता।
तभी तो मैं गाता
आओ बच्चो
मिलजुल कर
पेड़ लगाएं। - के एल दिवान।


यह भी पढ़ें - पेड़ों पर महान विचार 

SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: